मोतिहारी का मोतीझील होगा अतिक्रमण मुक्त, 28 जनवरी से चलेगा अभियान - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Saturday, January 23

मोतिहारी का मोतीझील होगा अतिक्रमण मुक्त, 28 जनवरी से चलेगा अभियान

 

मोतिहारी : 28 जनवरी से चलेगा मोतीझील को अतिक्रमण मुक्त करने का अभियान, बैठक में डीएम ने दिए आदेश

हिंदुस्तान मीडिया/मोतिहारी/बिहार

पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी के बीचोबीच अवस्थित मोतीझील को अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराने के लिए जिला प्रशासन 28 जनवरी से चरणबद्ध अभियान चलाएगा। जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक एवं पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा ने मोतीझील से अतिक्रमण हटाने को लेकर आज एक उच्च स्तरीय महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक के दौरान अपर समाहर्ता ने मोतीझील से चार चरण में अतिक्रमण हटाने संबंधी योजना को विस्तार पूर्वक जिलाधिकारी के समक्ष रखा। बैठक के दौरान मोतीझील के 138 अतिक्रमणकारियों के हाउस टू हाउस सर्वे रिपोर्ट की जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने योजना वार गहन समीक्षा की। आतिक्रमण हटाओ अभियान के प्रथम चरण में रोइंग क्लब से गांधी चौक तक मोतीझील से बड़े बिल्डरों के अतिक्रमण को हटाया जाएगा। इस कार्य के लिए जेसीबी, अन्य उपकरणों एवं मजदूरों का इंतजाम करने के लिए नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है। अभियान के दौरान मलवा हटाने के लिए कार्यपालक पदाधिकारी ट्रैक्टर ट्रॉली का भी इंतजाम करेंगे।

जनता से सहयोग की डीएम ने की अपील

 जिलाधिकारी श्री अशोक ने अनुमंडल पदाधिकारी सदर एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को योजनाबद्ध ढंग से 10 से 15 दिनों के अंदर मोतीझील से अतिक्रमण को हटाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने यह भी आदेश दिया है कि जितने भी ड्रेनेज का अतिक्रमण शहरी क्षेत्र में किया गया है उसे भी अतिक्रमण मुक्त करा दें। जिलाधिकारी ने आम जनता से अपील की है कि अतिक्रमण हटाने में सभी लोग एकजुट होकर जिला प्रशासन का सहयोग करें। जिससे शहर का वातावरण स्वच्छ बन सके और मोतीझील का कायाकल्प हो सके। जिलाधिकारी ने कहा है कि अतिक्रमण को सरकारी भूमि से हटाने में जो भी खर्च आएगा उसकी वसूली सर्टिफिकेट केस करके अतिक्रमणकारियों से की जाएगी। जिलाधिकारी के मुताबिक यदि अतिक्रमण हटाने में उनके निजी सामान की क्षति होती है तो यह उनकी व्यक्तिगत जिम्मेवारी होगी। प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने से पूर्व ही सरकारी जमीन को खाली करने की चेतावनी भी अतिक्रमणकारियों को दी है। आज की समीक्षा बैठक में नगर परिषद् अध्यक्षा , अनुमंडल पदाधिकारी सदर ,भूमि सुधार उप समाहर्ता ,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, गोपनीय शाखा के  विशेष कार्य पदाधिकारी  एवं अन्य प्रशासनिक पदाधिकारी समेत सरकारी अमीन मौजूद थे। जिला प्रशासन के आज की बैठक के बाद से अतिक्रमणकारियों के हाथ-पांव फुलने लगे हैं।

No comments:

Post a Comment