लापरवाही : केसरिया के एसएफसी गोदाम में बर्बाद हो गया 650 क्वींटल खाद्यान, जांच में हुआ खुलासा - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Sunday, August 9

लापरवाही : केसरिया के एसएफसी गोदाम में बर्बाद हो गया 650 क्वींटल खाद्यान, जांच में हुआ खुलासा

 

हिंदुस्तान मीडिया/मोतिहारी/बिहार

उत्तर बिहार में आई विनाशकारी बाढ़ के कारण विस्थापित हुए लोगों को एक तरफ खाने के लाले पड़े हैं तो दूसरी तरफ सरकारी गोदाम में रखा अनाज सड़ कर बर्बाद हो गया। जी हां, पूर्वी चंपारण जिले के केसरिया प्रखंड मुख्यालय स्थित एसएफसी के गोदाम में पानी घुस जाने से भारी मात्रा में अनाज सड़ गया है। केसरिया के गोदाम में सरकारी अनाज के बर्बाद होने की खबर मीडिया में आने के बाद शनिवार को इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए जिला प्रशासन ने इसकी जांच शुरु कर दी। 

डीएम के आदेश पर मामले की जांच करने एडीएम पहुंचे केसरिया

डीएम के आदेश पर शानिवार को एडीएम शशि शेखर चौधरी ने केसरिया पहुंच कर पानी घुसने के कारण गोदाम में नुकसान हुये अनाज की जांच की तथा नुकसान हुए अनाज का आकलन किया। प्रखण्ड के पदाधिकारियों से इस मामले में उन्होंने जानकारी भी ली।जांच के बाद एडीएम श्री चौधरी ने बताया कि केसरिया के एसएफसी गोदाम में जुलाई माह के वितरण के लिये रखे गये कुल खाद्यान्न में से करीब 650 क्विंटल खाद्यान्न गोदाम में पानी घुस जाने के कारण बर्बाद हो गया है। उन्होंने बताया कि खाद्यान्न बर्बाद होने के लिये प्रथम दृष्टया सहायक गोदाम प्रबंधक कुंदन कुमार सिंह जिम्मेवार हैं। श्री चौधरी ने बताया कि बर्बाद हुये अनाज की भरपाई सहायक गोदाम प्रबंधक या डीएम एसएफसी से की जाएगी। एडीएम के मुताबिक यह कर्तव्यहीनता एवं लापरवाही का गंभीर मामला है। इस मामले में जिला प्रशासन गंभीर है। उन्होंने कहा कि वे अपना जांच प्रतिवेदन जिलाधिकारी को सौपेंगे। 

उपभोक्ताओं को मिलेगा जुलाई माह का पूरा खाद्यान्न

जिले से आयी जांच टीम में जिला लोक निवारण पदाधिकारी रविन्द्र कुमार, एसडीओ चकिया ब्रजेश कुमार एवं एडीएसओ अरुण कुमार सिंह इत्यादि शामिल थे। मौके पर मौजूद चकिया के एसडीओ बृजेश कुमार ने बताया कि उपभोक्ताओं को जुलाई माह के राशन में कोई कटौती नहीं की जाएगी।

No comments:

Post a Comment