युवा जदयू के प्रदेश महासचिव को अपराधियों ने दी अगवा कर हत्या की धमकी - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Sunday, May 10

युवा जदयू के प्रदेश महासचिव को अपराधियों ने दी अगवा कर हत्या की धमकी

युवा जदयू नेता को अगवा कर हत्या कर देने की मिली धमकी, अपराधियों ने मांगी 05 लाख की रंगदारी

न्यूज डेस्क/मोतिहारी/बिहार

सुशासन बाबू की सरकार में अब अपराधी सत्ताधारी दल के नेताओं को ही रंगदारी और हत्या की धमकी देने लगे हैं। पिछले दिनों अपराधियों ने पूर्वी चंपारण जिला जदयू किसान प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष रामपुकार सिन्हा को फोन कर जान मारने की धमकी थी। पुलिस अभी उस मामले की छानबीन में जुटी थी कि बेखौफ अपराधियों ने इस बार युवा जदयू के प्रदेश महासचिव परवेज आलम को अपने निशाने पर ले लिया। परवेज आलम से अपराधियों ने पांच लाख रुपए की रंगदारी मांगी है। रंगदारी नहीं देने की स्थिति में अपराधियों ने युवा जदयू नेता को घर से अगवा कर हत्या कर देने की भी धमकी दी है। रंगदारी की मांग और हत्या की धमकी अपराधियों ने युवा जदयू नेता के सेलफोन पर कॉल करके दी है। युवा जदयू के प्रदेश महासचिव परवेज आलम पूर्वी चंपारण जिले के डुमरियाघाट थाना अन्तर्गत धनगड़हा गांव के निवासी हैं। रंगदारी की मांग और हत्या की धमकी भरा कॉल आने के बाद से युवा जदयू नेता का परिवार दहशत में है।

पीड़ित युवा जदयू नेता ने पुलिस को दी घटना की जानकारी

इस संदर्भ में युवा जदयू नेता परवेज आलम ने डुमरियाघाट थाने में एक आवेदन देकर अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध रंगदारी में पांच लाख रुपया मांगने और पैसा नहीं देने की स्थिति में हत्या करने की धमकी दिए जाने का आरोप लगाया है। डुमरियाघाट के थानाध्यक्ष को दिए आवेदन में परवेज आलम ने लिखा है कि शनिवार की रात्रि करीब 8:46 बजे धनगड़हा चौक स्थित अपने नर्सिंग होम में बैठे थे। उसी समय उनके सेलफोन पर किसी अंजान नंबर से कॉल आया। कॉल करने वाले ने युवा जदयू नेता को भद्दी-भद्दी गालियां देनी शुरु कर दी। गाली देने से मना करने पर कॉल करने वाले ने धमकी देते हुए कहा कि राजनीति में बहुत मत फड़फड़ाओ। उसने कहा कि अगर जिंदा रहकर अस्पताल चलाना हो तो बतौर रंगदारी पांच लाख रुपया पहुंचा दो। पैसा नहीं देने पर कॉल करने वाले ने राजनैतिक कैरियर चौपट कर देने और घर से उठा कर हत्या कर देने की धमकी दी।

पिछले महिने में भी मिली थी धमकी तो दर्ज हुआ था सनहा

यहां बता दें कि बीते अप्रैल महिने में भी अपराधियों ने युवा जदयू नेता से रंगदारी की मांग मोबाइल पर कॉल करके की थी। उस समय युवा जदयू नेता के आवेदन पर डुमरियाघाट थाने में सनहा दर्ज किया गया था। रंगदारी व हत्या की धमकी मामले में समानता यह है कि दोनों बार अपराधियों ने एक ही नंबर का उपयोग किया है।

मामले की जांच में जुटी पुलिस

इस संदर्भ में पुछे जाने पर डुमरियाघाट के थानाध्यक्ष रमण कुमार ने बताया कि रंगदारी की मांग एवं हत्या किए जाने की धमकी दिए जाने संबंधित आवेदन युवा जदयू नेता परवेज आलम की ओर से प्राप्त हुआ है। आवेदन में दिए गये मोबाइल नंबर की जांच कराई जा रही है। इस मामले में यथोचित कार्रवाई की जाएगी।

2 comments:

  1. HE IS MY FRIEND.... YE GALAT HUA HAI. ... . .

    ReplyDelete
  2. Aur kya bolun? BAHUT BARDAAST KAR LIYA ABB NHI.. .. BHAI

    ReplyDelete