नशे में धूत पुलिस जवान ने की फायरिंग, बाल-बाल बची पत्नी - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Monday, April 13

नशे में धूत पुलिस जवान ने की फायरिंग, बाल-बाल बची पत्नी

नशे में धूत पुलिस जवान ने की फायरिंग, बाल-बाल बची पत्नी

न्यूज डेस्क/मोतिहारी/बिहार

सूबे में लागू पूर्ण शराबबंदी के बीच पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतीहारी में नशे में धूत एक पुलिस जवान ने पत्नी से हुई मामूली विवाद के दौरान अपने सर्विस रिवाल्वर से फायरिंग कर दिया। इस घटना में उसकी पत्नी तो बाल-बाल बच गई लेकिन गोली चलाने वाला जवान खुद घायल हो गया। यह घटना मोतिहारी शहर के छोटा बरियारपुर में घटित हुई है। घटना की सूचना पाकर पहुंची छतौनी पुलिस ने धीरज कुमार नामक पुलिस जवान को गिरफ्तार कर लिया है। उक्त पुलिस जवान जिले में पदस्थापित एक न्यायधीश का बॉडी गार्ड बताया जा रहा है।

लोगों ने सुनी गोली की आवाज तो पुलिस को दी सूचना

घटना के संदर्भ में मिल रही जानकारी के अनुसार शनिवार की रात छोटा बरियापुर में लोगों ने गोली की आवाज सुनी। लोगों नज छतौनी पुलिस को इसकी सूचना दी। तब पता चला कि पुलिस जवान ने नशे की हालत में अपनी पत्नी नीलम पर गोली चला दी है। हालांकि फायरिंग के दौरान ऐन वक्त पर पत्नी ने पति के पिस्टल वाले हाथ को ऊपर उठा दिया। जिससे गोली छत में टकरा गई और अनहोनी होते-होते बची। लेकिन छत से टकराई गोली लौटकर पुलिस जवान धीरज के सिर में लग गई। जिससे वह मौके पर बेहोश हो गया।

छतौनी पुलिस ने जवान को किया गिरफ्तार

फायरिंग करने वाला पुलिस जवान धीरज गया जिला का रहने वाला सिपाही है। वह अपने परिवार के साथ मोतिहारी के छोटा बरियारपुर में किराए के मकान में रहता है। छतौनी के थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर मुकेश चंद्र कुमर के बयान पर छतौनी थाना में मामला दर्ज किया गया है। फायरिंग करने वाले जवान धीरज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस नज घटना स्थल से एक खोखा बरामद किया है।

खाना को लेकर पुलिस जवान का पत्नी से हुआ था विवाद

मिल रही जानकारी के मुताबिक कल रात खाना को लेकर पुलिस जवान धीरज एवं उसकी पत्नी नीलम में विवाद हुआ। जिस पर आक्रोशित होकर धीरज ने रिवाल्वर के बट से पत्नी पर प्रहार कर दिया। उसी दौरान सर्विस रिवाल्वर से गोली चल गई। लिहाजा पत्नी ने धीरज के हाथ को ऊपर उठा दिया जिससे गोली छत की तरफ चल गई थी। अगर गोली छत की तरफ नहीं जाती तो बड़ी घटना हो सकती थी।

No comments:

Post a Comment