कोरोना संकट : अब बिहार के मंत्री-विधायकों के वेतन में होगी कटौती - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Wednesday, April 8

कोरोना संकट : अब बिहार के मंत्री-विधायकों के वेतन में होगी कटौती

सीएम का फाइल फोटो (फेसबुक से)

नीतीश कैबिनेट का बड़ा फैसला : कोरोना संकट के मद्देनजर मंत्री और विधायकों के वेतन में होगी कटौती

न्यूज डेस्क/पटना/बिहार

कोरोना संक्रमण को लेकर देश भर में लागू लॉकडाउन के बीच बिहार की सुशासन सरकार ने आज बड़ा निर्णय लिया है।  बिहार की राजधानी पटना में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरीय राज्य मंत्रिमंडल की बैठक आयोजित की गई। आज की बैठक में मंत्री और विधायकों के वेतन में कटौती का फैसला लिया गया। वेतन में कटौती अगले एक साल तक जारी रहेगी। मंत्रिमंडल के फैसले के मुताबिक एक साल तक बिहार के सभी विधायकों और मंत्रियों के वेतन में 15 प्रतिशत की कटौती की जाएगी। आज की मंत्रिमंडलीय बैठक में कुल 29 फैसले लिए गये हैं।
यह निर्णय हुआ है कि विधायकों और मंत्रियों के वेतन में कटौती से प्राप्त राशि का उपयोग कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए किया जाएगा।

5 वीं से वर्ग 8 वीं तक के बच्चे बगैर परीक्षा दिए अगली  कक्षा में जायेंगे

आज हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मंत्रियों और विधायकों के वेतन में कटौती के अलावा कुछ अन्य महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए। वर्ग पांचवीं से आठवीं वर्ग तक के बच्चों को बगैर परीक्षा दिए ही अगली कक्षाओं में भेजने का फैसला भी लिया गया। राज्य सरकार ने कोरोना संकट के कारण स्कूलों में लगातार चल रही बंदी को लेकर यह निर्णय लिया है। मंत्रिमंडल ने उत्तर बिहार के सीतामढ़ी जिला मुख्यालय को नगर निगम का दर्जा देने का भी निर्णय लिया है।

केन्द्र सरकार ने भी मंत्रियों-सांसदों के वेतन कटौती का पहले ही किया है एलान

मालूम हो कि कोरोना संक्रमण को लेकर उत्पन्न देशव्यापी संकट के मद्देनजर केंद्र सरकार ने मंत्रियों-सांसदों के वेतन में कटौती और एमपी-लैड को अगले दो साल के लिए स्थगित करने का पहले ही निर्णय ले लिया है। इसके अलावा देश के कई राज्य सरकारों ने भी कोरोना संकट से लड़ाई के लिए विधायकों, उच्च अधिकारियों के वेतन में कटौती का फैसला किया है। केन्द्र सहित अन्य राज्य सरकारों द्वारा लिए गये फैसले के सुर में सुर मिलाते हुए बिहार मंत्रिमंडल ने आज वेतन कटौती का फैसला लिया है।

No comments:

Post a Comment