पूर्वी चंपारण के हरसिद्धि में बीडीओ पर हुआ जानलेवा हमला - HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Wednesday, April 15

पूर्वी चंपारण के हरसिद्धि में बीडीओ पर हुआ जानलेवा हमला

मोतिहारी के हरसिद्धि में बीडीओ पर हुआ जानलेवा हमला, पुलिसकर्मी भी हुए घायल

न्यूज डेस्क/मोतिहारी/बिहार

पूर्वी चंपारण जिले के हरसिद्धि में बीडीओ पर जानलेवा हमला हुआ है। मिली जानकारी के मुताबिक डीएम के आदेश पर हरसिद्धि के बीडीओ सुनील कुमार अपनी टीम के साथ कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण को लेकर  जागरूकता अभियान के तहत जागापाकड़़ गांव में गये थे जहां असमाजिक तत्वों ने बीडीओ एवं पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमला कर दिया.। असमाजिक तत्वों के इस हमले में बीडीओ सहित तीन पुलिसकर्मी जख्मी हो गए हैं। इस हमले में घायल दो पुलिसकर्मियों की हालत गंभीर बताई जा रही है। अनुमंडल मुख्यालय अरेराज स्थित रेफरल अस्पताल में सभी घायलों की चिकित्सा की जा रही है।

जागापाकड़़ के महादलित टोले की है घटना

जिला प्रशासन को यह सूचना मिल रही थी कि जागापाकड़ के महादलित टोले में लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन हो रहा है। इसी सूचना के आलोक में जिलाधिकारी के विशेष आदेश पर हरसिद्धि के बीडीओ सुनील कुमार पुलिस बल के साथ गांव में जागरुकता चौपाल लगाने पहुंचे थे। इसी दौरान बीडीओ सहित पूरे टीम पर असमाजिक तत्वों ने एकाएक हमला बोल दिया।

विज्ञापन

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे अरेराज के एसडीओ

अबतक मिल रही जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने बीडीओ एवं उनके टीम के सदस्यों पर जमकर पत्थरबाजी की। जिसके बाद टीम के सदस्यों ने भागकर अपनी जान बचाई। घटना की सूचना पाकर अरेराज के एसडीओ धीरेन्द्र कुमार मिश्रा दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि जागापाकड गांव के महादलित बस्ती में जिलाधिकारी के आदेशानुसार आज लॉकडाउन के नियमों एवं एईएस से बचाव की जानकारी को लेकर चौपाल लगाया जाना था। इसी दौरान  ग्रामीणों ने एकजुट होकर बीडीओ एवं उनके साथ गई टीम को घेरने का प्रयास किया।

उपद्रवियों ने बीडीओ की गाड़ी को किया क्षतिग्रस्त

अरेराज के एसडीओ श्री मिश्र ने बताया कि अंगरक्षक सहित कई लोगों को गम्भीर चोटे आयी है। बीडीओं के साथ स्वास्थ्य विभाग की भी टीम थी। स्वास्थ्य विभाग की टीम के सदस्यों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। आक्रोशित असमाजिक तत्वों ने हरसिद्धि के बीडीओ सुनील कुमार की गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है।

बीडीओ पर हुए हमले के बाद  अरेराज अनुमंडल प्रशासन की सक्रियता बढ़ गई है। पूर्वी चंपारण जिले में यह पहली घटना है जब लॉकडाउन के दौरान प्रशासनिक टीम पर हमला हुआ है।

No comments:

Post a Comment