HINDUSTAN MEDIA

Search This Blog

Breaking खबरें

Tuesday, September 29

बिहार : गोपालगंज में पत्रकार को अपराधियों ने मारी गोली

September 29, 2020 0

जानलेवा हमला : गोपालगंज में पत्रकार को गोली मारी, गंभीर हालत में गोरखपुर रेफर

हिंदुस्तान मीडिया/गोपालगंज/बिहार

बड़ी घटना बिहार के  गोपालगंज जिले में घटी है। यहां बाइक सवार बेखौफ अपराधियों ने मांझागढ़ में एक पत्रकार को गोली मारकर गंभीर रुप से घायल कर दिया। यह घटना मंगलवार की सुबह की बताई जाती है। गंभीर रुप से घायल पत्रकार को स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में गोपालगंज सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया, जहां गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया। अपराधियों की गोली से घायल पत्रकार राजन पाण्डेय मांझागढ़ प्रखंड से हिंदी दैनिक  'हिन्दुस्तान' के संवाददाता हैं। 

कोचिंग पढ़ाने जाने के दौरान अपराधियों ने घटना को दिया अंजाम

इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दोनों आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। घटना की सूचना मिलते ही सदर डीएसपी नरेश पासवान एवं मांझागढ़ थानाध्यक्ष छोटन कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंच गये और मामले की छानबीन शुरू कर दी। घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि मांझागढ़ थाने के लंगटूहाता गांव निवासी पत्रकार राजन पांडेय आज सुबह अपने घर से कोचिंग में पढ़ाने के लिए जा रहे थे। इस दौरान एक बुलेट बाइक पर सवार तीन अपराधी पहुंचे और पीछे से गोली मार दी। परिजनों व ग्रामीणों ने इलाज के लिए उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया।

अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी हो : पत्रकार प्रेस परिषद्

गोपालगंज के पत्रकार राजन पांडेय पर हुए जानलेवा हमले को पत्रकार प्रेस परिषद्  ने गंभीरता से लिया है। परिषद् के बिहार प्रदेश अध्यक्ष मधुरेश प्रियदर्शी ने इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बिहार में आम लोगों की बात कौन करे अब मीडियाकर्मी भी सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने घायल पत्रकार की बेहतर चिकित्सा सरकारी खर्च पर कराने एवं इस हमला कांड में शामिल अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की है। प्रदेश अध्यक्ष ने जोर देकर कहा कि बिहार में पत्रकार असुरक्षित हैं। ऐसे में हमारी सरकार लोकतंत्र एवं सुशासन की सफलता का दावा नहीं कर सकती। उन्होंने सूबे के मीडियाकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की है। पत्रकार प्रेस परिषद् के प्रदेश उपाध्यक्ष अमरेश कुमार, प्रदेश सचिव समीर सरकार, रामबालक ठाकुर, शशिकांत सिंह, बच्चा गिरि, डीएन कुशवाहा, दीपक अग्निरथ, योगेंद्र नाथ शर्मा, दीनानाथ पाठक, चुन्नू उपाध्याय, नुरुल होदा, मुकेश कुमार एवं अभय पांडेय सहित सूबे अनेक पत्रकारों ने पत्रकार राजन पांडेय हमलाकांड की कड़ी निंदा की है।

Read More

Sunday, September 27

संजय किशोर तिवारी बने लोजपा के प्रखंड अध्यक्ष

September 27, 2020 0

 

संजय किशोर तिवारी को मिली लोजपा की कमान

हिंदुस्तान मीडिया/मोतिहारी/बिहार

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर लोजपा पूर्वी चंपारण जिले में अपने संगठन को चुस्त-दुरुस्त करने में लगी है। इस कड़ी में पूर्वी चंपारण जिला लोजपा के अध्यक्ष पं.धरनीधर मिश्रा ने बथना पंचायत के पैक्स अध्यक्ष संजय किशोर तिवारी को केसरिया प्रखंड लोजपा का अध्यक्ष मनोनीत किया है। श्री तिवारी का मनोनयन करते हुए जिला अध्यक्ष श्री मिश्रा ने कहा कि संजय किशोर तिवारी अपने पंचायत के साथ ही केसरिया क्षेत्र में काफी लोकप्रिय हैं। वे कुशल संगठनकर्ता भी हैं। जिला अध्यक्ष ने आशा जताई है कि नवमनोनित प्रखंड अध्यक्ष श्री तिवारी के नेतृत्व में लोजपा का संगठन केसरिया में काफी मजबूत होगा।

विधायक राजू तिवारी सहित अनेक नेताओं ने दी बधाई

केसरिया प्रखंड लोजपा का अध्यक्ष बनाये जाने पर अनेक नेताओं ने संजय किशोर तिवारी को बधाई दी है। लोजपा विधायक दल के नेता व गोविंदगंज के विधायक राजू तिवारी ने कहा कि नवमनोनित प्रखंड अध्यक्ष के नेतृत्व में लोजपा एवं एनडीए को आसन्न चुनाव में आशातीत सफलता मिलेगी। बधाई देने वालों में युवा लोजपा के जिलाध्यक्ष पंकज कुमार द्विवेदी, पूर्व मुखिया गुड्डू खां, श्रीनारायण यादव, रामेश्वर महतो, सुबोध कुमार एवं हृदयानंद चौधरी सहित अनेक नेता एवं समाजसेवी शामिल हैं।

Read More

पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जदयू में हुए शामिल, सीएम नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता

September 27, 2020 0

जदयू के हुए पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय, सीएम नीतीश कुमार ने दिलाई सदस्यता

हिंदुस्तान मीडिया/पटना/बिहार

कुछेक दिन पहले तक बिहार के डीजीपी के रुप में अपनी कड़क मिजाजी दिखाने वाले गुप्तेश्वर पांडेय अब सूबे की सत्ताधारी पार्टी जदयू की ओर से गरजेंगे। श्री पांडेय आज से  नेता बन गये हैं और अब वे अपनी राजनैतिक पारी की शुरुआत करेंगे। पूर्व डीजीपी श्री पांडेय आज जदयू में शामिल हो गए। राजधानी पटना स्थित सीएम आवास पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुप्तेश्वर पांडेय को जदयू की सदस्यता दिलाई। मौके पर बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, जदयू के सांसद ललन सिंह, एवं बिहार सरकार के मंत्री अशोक कुमार चौधरी सरीखे नेता उपस्थित थे। 

मैं राजनीति नहीं समझता : गुप्तेश्वर पांडेय

इस अवसर पर पूर्व डीजीपी ने कहा कि मुझे खुद सीएम ने बुलाया और पार्टी में शामिल होने के लिए कहा। पार्टी का जो भी आदेश होगा वो मुझे मान्य होगा। गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मैं राजनीति नहीं समझता। उन्होंने कहा कि मैं एक साधारण व्यक्ति हूं, मैंने अपना समय समाज के निचले तबके के लिए काम करने में बिताया है। वहीं इससे पहले डीजीपी पद से वीआरएस लेने के बाद गुप्तेश्वर पांडेय ने शनिवार को जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की थी। आपको बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय ने 22 सितंबर को पुलिस सेवा से वीआरएस ले लिया था। इसके बाद 23 सितंबर को उन्होंने मीडिया से खुलकर बातचीत की थी। गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था कि उनको विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए 14 जगहों से ऑफर मिला है। अब देखना यह है कि पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय किस विधानसभा क्षेत्र से चुनाव में उतरते हैं।
Read More

Friday, September 25

बज गया बिगुल: तीन चरणों में होगा बिहार का चुनाव

September 25, 2020 0

तीन चरणों में होगा बिहार विधानसभा का चुनाव, 28 अक्टूबर को पहले चरण का मतदान

हिंदुस्तान मीडिया/नई दिल्ली

चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) की तारीखों की घोषणा कर दी है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि बिहार में विधानसभा का चुनाव तीन चरणों में होगा। 28अक्टूबर को पहले चरण में 71, 03 नवंबर को दूसरे चरण में 94 और 07 नवंबर को तीसरे चरण में 78 सीटों पर मतदान होगा। आयोग की घोषणा के मुताबिक 10 नवंबर को चुनाव परिणाम का ऐलान किया जाएगा।

चुनाव आयोग के प्रेस कॉन्फ्रेंस की प्रमुख बातें....

● 28 अक्टूबर को होगा पहले चरण का चुनाव।

●3 नवंबर को दूसरे चरण का चुनाव।

●7 नवंबर को तीसरे चरण का चुनाव।

●10 नवंबर को चुनावों के नतीजे होंगे घोषित।

●पहले चरण में 16 जिलों के 71 सीटें पर होगा चुनाव।

●दूसरे चरण 17 जिलों के 94 सीटों पर होगा चुनाव।

●तीसरे चरण में 15 जिलों के 78 सीटों पर होगा चुनाव।

●नामांकन में 2 से ज्यादा गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं होगा।

●कोरोना के मरीज मतदान के आखिरी घंटे में डालेंगे वोट।

●सुबह 7 से शाम 6 बजे तक होगा मतदान।

●चुनाव प्रचार में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होगा जरूरी।

●बिहार में कोरोना काल में सबसे बड़ा चुनाव।

●29 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल हो रहा समाप्त।

●7 लाख सैनिटाइजर और 46 लाख मास्क का होगा इंतजाम।

●चुनाव में 6 लाख फेस शील्ड का भी इंतजाम रहेगा।

●1 बूथ पर सिर्फ 1 हजार मतदाता ही वोट डालेंगे।

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग के आज के प्रेस कॉन्फ्रेंस को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।  पिछले काफी समय से बिहार चुनाव की तारीखों को लेकर अटकलबाजी का दौर जारी था,जिस पर आज विराम लग गया। बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होगा। चुनाव की घोषणा होते ही बिहार में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है।

Read More

आज हो सकता है बिहार विधानसभा चुनाव का ऐलान, निर्वाचन आयोग दोपहर 12.30 बजे करेगा पीसी

September 25, 2020 0

आज दोपहर 12.30 बजे चुनाव आयोग करेगा पीसी,बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का होगा एलान?

हिंदुस्तान मीडिया/नई दिल्ली

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर अबतक की सबसे बड़ी खबर देश की राजधानी नई दिल्ली से मिल रही है। चुनाव आयोग आज बिहार विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान कर सकता है। आज दोपहर 12.30 बजे चुनाव आयोग का प्रेस कॉन्फ्रेंस होगा। ऐसे में तय माना जा रहा है कि चुनाव आयोग आज बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर सकता है। यहां बता दें कि मौजूदा बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होने जा रहा है।

तीन चरण में हो सकता है बिहार विधानसभा का चुनाव

चुनाव आयोग की प्रवक्ता शेफाली शरण ने कहा है कि आज का प्रेस कांफ्रेंस बिहार चुनाव को लेकर होगा। ऐसा माना जा रहा है कि कोरोना वायरस की वजह से इस बार बिहार में तीन चरणों में चुनाव कराए जा सकते हैं। वर्ष 2015 में बिहार विधानसभा का चुनाव पांच चरणों में संपन्न हुआ था। हालांकि कोरोना संक्रमण को लेकर इस बार का बिहार विधानसभा का चुनाव कुछ मायने में अलग होगा। कोरोना को देखते हुए इस बार के चुनाव में मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है।

Read More

Wednesday, September 23

मोतिहारी : स्कूल से चल रहा था शराब का कारोबार, 169 कार्टून शराब के साथ गुरुजी गिरफ्तार

September 23, 2020 0

 

मोतिहारी : स्कूल से हो रहा था शराब का कारोबार, पुलिस ने 169 कार्टून शराब के साथ गुरुजी सहित दो को पकड़ा

हिंदुस्तान मीडिया/मोतिहारी/बिहार

कोरोना काल में स्कूल बंद हुआ तो गुरुजी ने स्कूल को बना दिया शराब कारोबार का अड्डा। जी हां, यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि पूर्वी चंपारण जिले के राजेपुर पुलिस ने इसका खुलासा किया है। सूबे में जारी पूर्ण शराब बंदी के बावजूद राजेपुर थाना क्षेत्र के काशीपाकड़ गांव स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय से पुलिस ने 169 कार्टून विदेशी शराब बरामद किया है। राजेपुर थाने की पुलिस ने यह कार्रवाई गुप्त सूचना के आधार पर की है।

गिरफ्तार हेडमास्टर एवं शिक्षिका पति से पुलिस कर रही पुछताछ

भारी मात्रा में शराब बरामदगी के बाद पुलिस ने स्कूल के हेडमास्टर शिवशंकर प्रसाद और सहायक शिक्षिका शोभा देवी के पति राजेश रजक को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार हेडमास्टर एवं सहायक शिक्षिका के पति से पुलिस पूछताछ करने में जुटी है। राजेपुर पुलिस यह भी पता लगाने में जुटी है कि आखिर शराब के कारोबार में इन शिक्षकों के साथ कौन-कौन से लोग शामिल हैं। शिक्षा के मंदिर से भारी मात्रा में शराब बरामद होने के बाद इलाके के लोग आश्चर्यचकित हैं। लोगों का कहना है कि इन शिक्षकों ने शराब कारोबार में संलिप्त होकर शिक्षक पद को कलंकित करने का काम किया है।

Read More

बड़ी खबर : बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने लिया वीआरएस, अब लड़ेंगे चुनाव

September 23, 2020 1

 

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने लिया वीआरएस, एस.के.सिंघल को मिला प्रभार

हिंदुस्तान मीडिया/स्टेट डेस्क/पटना

बिहार की राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आ रही है। सूबे के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस ले लिया है। सूत्रों के मुताबिक अब वे राजनीतिक पारी शुरुआत करने के मूड में हैं। मिल रही जानकारी के मुताबिक वे शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे। उनके एनडीए प्रत्याशी के रुप में बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने की प्रबल संभावना है। डीजीपी श्री पांडेय के वीआरएस लेने के बाद एस.के. सिंघल को बिहार के डीजीपी का प्रभार मिला है। गृह विभाग ने इस संदर्भ में अधिसूचना जारी कर दी है।

सेवानिवृत्ति से 05 माह पहले लिया वीआरएस

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा काफी पहले से चल रही थी। आज उनके द्वारा वीआरएस लिए जाने के साथ ही अब यह स्पष्ट हो गया कि उनका चुनावी जंग में उतरना तय है। डीजीपी श्री पांडेय ने सेवानिवृत्ति से पांच महीने पहले ही वीआरएस ले लिया है।

               एस.के.सिंघल

1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं गुप्तेश्वर पांडेय

यहां बता दें कि 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी गुप्तेश्वर पांडेय का कार्यकाल महज पांच महीने और बचा था। वे 31 जनवरी 2019 को बिहार के डीजीपी बने थे। राज्य के डीजीपी के रूप में गुप्तेश्वर पांडेय का कार्यकाल 28 फरवरी 2021 को पूरा होने वाला था। सूत्रों की अगर माने तो वीआरएस लेने वाले डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने चुनावी मैदान में उतरने की पूरी तैयारी कर ली है। उनका एनडीए गठबंधन की ओर से शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ना तय है।

Read More

Monday, September 21

मोतिहारी : सदर अस्पताल में भर्ती कैदी हथकड़ी सहित हुआ फरार

September 21, 2020 0

 


मोतिहारी : इलाज के लिए सदर अस्पताल आया कैदी हथकड़ी सहित फरार

हिंदुस्तान मीडिया/मोतिहारी/बिहार

 पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी में पुलिस अभिरक्षा को धत्ता बताते हुए एक कैदी हथकड़ी सहित फरार हो गया है। मिली जानकारी के मुताबिक यहां के सदर अस्पताल में इलाजरत एक कैदी रविवार की देर रात बाथरूम जाने के बहाने वहां तैनात सुरक्षाकर्मी से मारपीट कर हथकड़ी सहित फरार हो गया। इस सिलसिले में वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों के बयान पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। फरार बंदी शहर के हनुमानगढ़ी निवासी मोहम्मद राजू उर्फ हसनैन की पुनः गिरफ्तारी के लिए नगर थाने की पुलिस ने छापेमारी शुरू कर दी है। मोतिहारी नगर थाना की पुलिस निरीक्षक गौरी कुमारी ने बताया कि 17 सितंबर को मोहल्लेवासियों ने चोरी के आरोप में हनुमानगढ़ी निवासी मोहम्मद राजू उर्फ हसनैन को पकड़ा था। मुहल्ले के लोगों ने इस दौरान उसके साथ मारपीट भी की थी, जिसे जख्मी स्थिति में पुलिस ने उसे अपनी अभिरक्षा में लिया और उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती करा दिया। 

फरार कैदी के विरुद्ध नगर थाने में मामला दर्ज

सदर अस्पताल में दो होमगार्ड जवानों की देखरेख में उसका इलाज कराया जा रहा था। इसी दौरान उसने बाथरूम जाने के बहाने वहां मौजूद होमगार्ड के जवानों के साथ मारपीट की और हथकड़ी समेत फरार हो गया। बताया जाता है कि नगर पुलिस ने इस मामले में होमगार्ड के जवान नागेन्द्र एवं खेलावन के खिलाफ प्रथमदृष्टया लापरवाही मानते हुए कार्रवाई के लिए एसपी को रिपोर्ट भेजी है। हालांकि जिले में पुलिस अभिरक्षा से कैदी के फरार होने का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी थाना, कोर्ट परिसर एवं सदर अस्पताल से कैदी फरार हो चूके हैं। सदर अस्पताल से कैदी के फरार होने के इस मामले ने एक बार फिर पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा दिया है।

Read More